Agro Haryana

10 January से बदल जाएगी UPI यूजर्स की किस्मत, सरकार लागू करने जा रही ये नया नियम

इस समय UPI के जरिए पेमेंट करना काफी आसान हो गया है और इसका इस्तेमाल भी काफी बढ़ता जा रहा है. लेकिन पहले सरकार ने UPI की लिमिट को 1 लाख तक तय कर रखा था, लेकिन अब इसको बढ़ाकर 5 लाख करने का फैसला लिया गया है.
 | 
10 January से बदल जाएगी UPI यूजर्स की किस्मत

Agro Haryana, New Delhi अगर आप भी ऑनलाइन पेंमेंट (UPI Payments) करते हैं तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है. केंद्र सरकार की तरफ से ऑनलाइन पेमेंट करने वालों को नए साल में एक और तोहफा मिल गया है.

इस समय UPI के जरिए पेमेंट करना काफी आसान हो गया है और इसका इस्तेमाल भी काफी बढ़ता जा रहा है. लेकिन पहले सरकार ने UPI की लिमिट को 1 लाख तक तय कर रखा था, लेकिन अब इसको बढ़ाकर 5 लाख करने का फैसला लिया गया है. हालांकि इसका फायदा कुछ खास स्थितियों में ही होगा. 

पहले सरकार की तरफ से कहा गया था कि आप एक दिन में यूपीआई के जरिए 1 लाख रुपये से ज्यादा पैसा ट्रांसफर नहीं कर सकते थे. वहीं, अब NPCI ने रिजर्व बैंक के साथ मिलकर इस परेशानी को दूर कर दिया है. अब आप एक बार में यूपीआई के जरिए 5 लाख तक का पेमेंट कर सकते हैं. 

10 जनवरी से लागू होगा नियम

NPCI ने अब हॉस्पिटल और शिक्षण संस्थानों जैसी जरूरी संस्था पर पेमेंट की लिमिट को बढ़ा दिया है. आप अस्पताल और शिक्षण संस्थानों जैसी जगहों पर 5 लाख रुपये तक के ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं. खास बात यह है कि यह बढ़ी हुई लिमिट केवल 'वेरिफाईड मर्चेंट' पर लागू होगी. बता दें यह नया नियम 10 जनवरी से लागू हो जाएगा.  

पसंदीदा पेमेंट सिस्टम बना UPI

19 दिसंबर, 2023 के NPCI के सर्कुलर के मुताबिक यूपीआई एक पसंदीदा पेमेंट सिस्टम के रूप में उभरकर सामने आया है. अगर कैपिटल मार्केट (AMC, ब्रोकिंग, म्यूचुअल फंड), कलेक्शन (क्रेडिट कार्ड पेमेंट, लोन रिपेमेंट्स, ईएमआई), इंश्योरेंस आदि की बात की जाए तो यहां पर लेनदेन की लिमिट 2 लाक रुपये है. वहीं, अन्य सामान्य स्थिति में यूपीआई की लिमिट 1 लाख रुपये है. 

क्या होता है UPI?

यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफ़ेस (UPI) एक इंस्टेंट पेमेंट सिस्टम है. इसको नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया की तरफ से डेवलप किया गया है. UPI IMPS (तत्काल पेमेंट सर्विस) इंफ्रास्ट्रक्चर पर बनाया गया है. आप UPI के जरिए एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में इंस्टेंट पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. 

2023 में कितना हुआ UPI से ट्रांजेक्शन

देशभर में इस समय यूपीआई ट्रांजेक्शन काफी तेजी से बढ़ रहे हैं. साल 2023 के आखिरी महीने में यूपीआई ट्रांजेक्शन (UPI transactions) में रिकॉर्ड तेजी देखी गई है.

पिछले एक महीने में यूपीआई ट्रांजेक्शन के जरिए 18.23 लाख करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ. साल 2022 के इसी महीने के मुकाबले लगभग 54 फीसदी ज्यादा है. साल 2023 में यूपीआई का ट्रांजेक्शन की संख्या 100 अरब से भी ज्यादा रही है. 

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like