Agro Haryana

SIP With EMI:होम लोन पर बचाना चाहते हैं ब्याज, तो आप भी अपना लें ये गजब का फॉर्मूला

SIP With EMI: अपना घर लेने के लिए लोग बैंक से होम लोन लेते हैं, लेकिन होम लोन की किस्ते काफी ज्यादा होती है जिसकी वजह से ये बाद में आपके लिए एक बड़ी परेशानी बन जाता है। आपको बता दें कि आप भी अपने होम लोन पर ब्याज की बचत करना चाहते हैं तो आपके लिए इस फॉर्मूले को अपना लेना काफी अच्छा रहेगा। 
 | 
SIP With EMI: होम लोन र बचाना चाहते हैं ब्याज, तो आप भी अपना लें ये गजब का फॉर्मूला 

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली: आरबीआई (RBI) ने पिछले 1 साल के दौरान रेपो रेट (Repo Rate) में 2.50 फीसदी का इजाफा कर दिया है। जिसके बाद से ज्‍यादातर बैंकों और एनबीएफसी ने होमलोन रेट (Home Loan Interest Rates) में भी 1.5 से 2 फीसदी इजाफा कर दिया है; 

इसका नतीजा यह हुआ है कि साल 2022 की शुरूआत में होमलोन की जा दरें 7.50 फीसदी थीं, वह बढ़कर 9।50 फीसदी के करीब पहुंच गई हैं। यानी अब लोन लेकर घर खरीदना जेब पर काफी भारी पड़ रहा है। इसलिए जरूरी है कि घर खरीदने की प्‍लानिंग कर रहे हैं 

तो कुछ अलग से निवेश की ऐसी भी प्‍लानिंग करें, जिससे घर खरीदने में खर्च होने वाला फंड रिकवर भी हो सके। ये मुश्किल नहीं है, बस इसके लिए कुछ स्‍मार्ट इन्‍वेस्‍टर बनकर काम करना जरूरी है। वैसे इसके लिए बेहतर फॉर्मूला है EMI के साथ साथ SIP।

होमलोन: मूलधन पर कितना देते हैं ब्‍याज-

आप जब होमलोन लेते हैं तो क्‍या आप यह कैलकुलेट कर पाते हैं कि आपको मूलधन पर बैंकों को कितना ब्‍याज देना पड़ता है। मान लिया कि आप 35 लाख रुपये का लोन ले रहे हैं, वह भी 20 साल के लिए। 

बैंकों की होमलोन पर औसत ब्‍याज दर आजकल 9.5 फीसदी के आस पास है। ऐसे में अगर आप ईएमआई देखें तो हर महीने 32739 रुपये की बनेगी। इस लिहाज से आपका 20 साल के दौरान बैंकों को दिया जाने वाला ब्‍याज 43,57,349 रुपये होगा। 

इसमें मूलधन भी जोड़ दें तो बैंकों को देने वाली कुल रकम 78,57,349 रुपये होगी। यानी आपने लिया तो 35 लाख, लेकिन दिया करीब 78.50 लाख रुपये, जो डबल से ज्‍यादा है।

कुल होम लोन: 35 लाख रुपये

इंटरेस्ट रेट: 9.55%

लोन की अवधि: 20 साल

EMI: 32,739 रुपये

कुल ब्‍याज: 43,57,349 रुपये

लोन के बदले बैंक को कुल पेमेंट: 78,57,349 रुपये

(SBI Interest Rates)

लोन लेने के बाद क्‍या करना चाहिए-

BPN फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम का कहना है कि आज के दौरान में लोन लेकर घर खरीदना आम बात हो गई है। मेट्रोल शहरों की बात करें तो ठीक ठाक फ्लैट खरीदने के लिए 30 से 40 लाख लोन लेने की जरूरत पड़ सकती है। ऐसे में इस लोन पर सिर्फ ब्‍याज भरने की जगह, इसे रिकवर करने का भी उपाय खोजना जरूरी है। 

आज के दौर में म्‍यूचुअल फंड SIP एक बेहतर विकल्‍प है। होम लोन की ईएमआई शुरू होते ही साथ में उतने ही टेन्‍योर के लिए SIP करनी चाहिए। SIP में कितनी रकम डालनी है, यह हर महीने होम लोन के लिए दिए जाने वाली किस्‍त के आधार पर तय करनी चाहिए।

SIP से घर को करें लोन मुक्‍त-

यहां आपकी मंथली ईएमआई 32739 रुपये यानी 33000 रुपये के करीब है। आप ईएमआई शुरू होने के साथ ही इस रकम का 17 फीसदी एसआईपी कर दें। यानी हर महीने 5600 रुपये आपको किसी बेहतर म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम में एसआईपी के जरिए निवेश करना होगा। 

यह निवेश भी 20 साल के लिए होगा। 20 साल लंबी अवधि है और रिटर्न हिस्‍ट्री देखें तो बहुत सी ऐसी स्‍कीम हैं, जिनमें 20 साल में एसआईपी का रिटर्न 15 फीसदी या इससे ज्‍यादा रहा है। हम यहां सालाना रिटर्न 12 फीसदी मानकर कैलकुलेशन करेंगे।

मंथली SIP: 5600 रुपये

सालाना ब्याज: 12 फीसदी

20 साल बाद SIP की वैल्यू: 55,95,228 रुपये

आपका कुल निवेश: 13,44,000 रुपये

ब्यज का फायदा: 42,51,228 रुपये

SIP करने से आपको क्‍या रिजल्‍ट मिला-

यहां आपने ईएमआई के साथ ही एसआईपी भी शुरू की। 20 साल में हर महीने आपने 5600 रुपये निवेश किया। यानी आपको कुल 13,44,000 रुपये लगाना पड़ा।

बदले में आपकी 20 साल बाद एसआईपी की कुल वैल्‍यू 55,95,228 रुपये हो गई। अगर इसमें से अपना निवेश निकाल लें तो भी 42।50 लाख रुपये का फायदा हुआ। 

जबकि आप करीब इतनी ही रकम बैंक को ब्‍याज के रूप में दे रहे हैं। कहने का मतलब है कि आपने निवेश कर अपना ब्‍याज जीरों कर लिया। ध्‍यान दें कि अगर क्षमता है और एसआईपी की रकम बढ़ा सकें तो पूरा घर लोन फ्री भी हो सकता है।

20 साल: ज्यादा SIP रिटर्न देने वाले फंड-

ICICI Pru Technology: 20% CAGR

SBI Consmpn Opp: 19.5% CAGR

Nippon Ind Growth: 19.5% CAGR

SBI Magnum Global: 19% CAGR

ICICI Pru FMCG: 19% CAGR

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like