Agro Haryana

अब मौज में कटेगा बुढ़ापा, सिर्फ इस स्कीम में करना होगा निवेश

रिटायरमेंट स्कीम एक ऐसी चीज है -जो कि बुढ़ापे में किसी भी शख्स को फाइनेंशियल जरुरतों को पूरा करने में सहायता मिलती है, जिसमें चिकित्सा व्यय और घरेलू खर्च भी शामिल है।

 | 
अब मौज में कटेगा बुढ़ापा, सिर्फ इस स्कीम में करना होगा निवेश

Agro Haryana, New Delhi रिटायरमेंट प्लान बनाना किसी भी शख्स के जीवन में एक काफी जरुरी कम है। क्यों कि इससे उसे बढ़ापे में खुद की देखभाल करने के लिए पर्याप्त सेविंग करने में सहायता मिलती है। अगर आप भी अपकी इन्हीं जरुरतों को ध्यान में रखकर सेविंग करने जा रहे हैं तो ये खबर आपके लिए है।

रिटायरमेंट स्कीम एक ऐसी चीज है -जो कि बुढ़ापे में किसी भी शख्स को फाइनेंशियल जरुरतों को पूरा करने में सहायता मिलती है, जिसमें चिकित्सा व्यय और घरेलू खर्च भी शामिल है।

रिटायरमेंट प्लान का महत्व

सेविंग और निवेश करने से कर्मचारियों को रिटायरमेंट के समय के लिए एक कापर्स बनाने में सहायता मिलती है। इसके उनके ओल्ड एड के समय आने वाली वित्तीय खर्चों को संभालने में सहायता मिलती है।

बहराल सही से स्कीम नहीं बनाई गई है, तो कई लोगों को अपने जीवन को मैनेज करना कठिन होता है और इन्हीं खर्चों को कवर करने के लिए दूसरों पर डिपेंट रहना होगा। यहीं पर रिटायरमेंट स्कीम्स आपकी सहायता करते हैं।

पीपीएफ में करें निवेश

पीपीएफ एक सरकारी सेविंग स्कीम है। इसको आपको बढ़िया रिटर्न भी मिलता है। जिससे आप रिटायरमेंट कॉपर्स तैयार कर सकते हैं। पीपीएफ में निवेश 15 साल की अवधि के लिए किया जा सकता है और खाता कम से कम 500 रुपये के कंट्रीब्यूशन के साथ में ओपन किया जा सकता है।

एक फाइवनेंशियल ईयप में मैक्जिमम 1.5 लाख तक का निवेश किया जा सकता है। पीपीएफ निवेश पर इस समय हर साल 7.1 फीसदी का ब्याज मिलता है।

नेंशनल पेंशन सिस्टम(एनपीएस)

ये एक सरकारी स्कीम है जिसका उद्देश्य पेंशन स्कीम के जरिए से सरकारी और निजी क्षेत्रों में कर्मचारियों समेत मजदूर वर्ग को समाजिक सेफ्टी करना है।

पहले इस पॉलिसी का लाभ सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को मिलता था। लेकिन अब इसका लाभ प्राइवेट सेक्टर कर्मचारी भी उठा सकते हैं। 60 साल होने के बाद इनवेस्टरों को 60 फीसदी पैसा मिलता है और बाकी 40 फीसदी के साथ में सालाना स्कीम का ऑप्शन मिल सकता है।

बैंक डिपॉजिट है तरीका

पैसा बचाने एक पारंपरिक तरीका है आपके सेविंग खाते में रेगुलर जमा करना है कोई भी शख्स आरडी का ऑप्शन मिल सकता है क्यों कि ये रेगुलर निवेश के साथ में रेगुलर सेविंग खातेकी तुलना में ज्यादा रिटर्न देता है। इसके अलावा कोई भी शख्स एफडी में जमा में भी निवेश कर सकता है।
 

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like