Agro Haryana

ITR भरने वालों ने पिछले साल का तोड़ा रिकॉर्ड, 8 करोड़ लोगों ने किया Taxpay

Taxpayers: CBDT ने जानकारी देते हुए कहा है कि टैक्सपेयर्स की तारीफ करते हुए कहा है कि पिछले साल टैक्स भरने वालों ने रिकॉर्ड तोड़ा था. आपको मिली जानकारी के अनुसार बता दें कि 8 करोड़ लोगों ने सबसे ज्यादा इनकम टैक्स रिटर्न पे किए गए है. आइए जानते है पूरी डिटेल...
 | 
ITR भरने वालों ने पिछले साल का तोड़ा रिकॉर्ड, 8 करोड़ लोगों ने किया Taxpay
Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली: केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (Central Board of Direct Taxes) ने सोमवार को यह जानकारी दी कि चालू असेसमेंट ईयर में 31 दिसंबर तक 8.18 करोड़ कर रिटर्न दाखिल किए गए हैं.

जबकि, एक साल पहले 31 दिसंबर 2022 तक 7.51 करोड़ आयकर रिटर्न भरे गए थे. CBDT ने अपने बयान में कहा कि यह बीते वित्त वर्ष 2022-23 में भरे गए कुल आयकर रिटर्न से 9 फीसदी अधिक है. 

CBDT की रिपोर्ट के मुताबिक, रिपोर्टिंग पीरियड के दौरान कुल 1.60 करोड़ ऑडिट रिपोर्ट और अन्य फॉर्म भरे गए, जबकि एक साल पहले 2022-23 की इसी अवधि में यह आंकड़ा 1.43 करोड़ था.

आयकर रिटर्न की संख्या में भी बढ़ोतरी

CBDT ने समय पर टैक्स भरने वालों की तारीफ की. इसके अलावा आयकर रिटर्न की संख्या भी बढ़ी है. आकलन वर्ष 2023-24 (Assessment year) में 21 दिसंबर तक 8.18 करोड़ Income Tax Return (ITR) भरे गए.

जबकि, 1 साल पहले 31 दिसंबर, 2022 तक 7.51 करोड़ ITR भरे गए थे. इसमें कहा गया है कि करदाताओं के लिए अनुपालन को आसान बनाने के लिए वेतन, ब्याज, लाभांश, व्यक्तिगत जानकारी, Tax Deducted at Source (TDS) से संबंधित सूचना सहित ज्यादातर आंकड़ें पहले से भरे हुए थे.

इसमें कहा गया है कि इस सुविधा का बड़े पैमाने पर उपयोग किया गया. इसके कारण ITR को आसानी से और तेजी से दाखिल किया जा सका.

ई-पेमेंट का रास्ता हुआ आसान

इसके अलावा इस वित्त वर्ष के दौरान OLTAS (ऑनलाइन टैक्स अकाउंटिंग सिस्टम) भुगतान व्यवस्था की जगह एक डिजिटल ई-पे टैक्स भुगतान मंच -ITN- दो को ई-फाइलिंग पोर्टल पर पूरी तरह से चालू किया गया है.

CBDT ने कहा कि इससे करदाताओं के लिए कर के ई-पेमेंट का रास्ता आसान हुआ है. टीआईएन-दो मंच ने करदाताओं को रियल टाइम पर टैक्स जमा करने में सक्षम बनाया है जिससे ITR दाखिल करना आसान और तेज हो गया है. 

इसके अलावा, कर विभाग ने करदाताओं को समय पर ITR और फॉर्म भरने को लेकर बड़े स्तर पर प्रचार-प्रसार अभियान भी चलाया. इसमें E-Mail, SMS आदि के जरिये लोगों से समय पर ITR भरने को प्रोत्साहित किया गया. CBDT ने कहा कि इन सब कारणों से 2023-24 में 31 दिसंबर तक आयकर रिटर्न में सालाना आधार पर फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है.

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like