Agro Haryana

Chandi ka rate: चांदी की कीमतों में 11 प्रतिशत की हुई बढ़ोतरी, आठवें आसमान पर पहुंच गए रेट

Chandi ka rate: हर दिन सोने चांदी की नई कीमतें दर्ज होती है. मिली जानकारी के अनुसार बता दें कि चीन में चांदी की काफी डिमांड है. जिससे चांदी के दामों में 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली है. देश में पहली बार चांदी 80 हजार के भी पार पहुंच गई है। खरीदने से पहले एक बार जरूर चेक कर लें चांदी का लेटेस्ट प्राइज...
 | 
 चांदी की कीमतों में 11 प्रतिशत की हुई बढ़ोतरी, आठवें आसमान पर पहुंच गए रेट
Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली:  जहां एक ओर सोना निवेशकों को छप्परफाड़ कमाई करा रहा है. वहीं दूसरी ओर चांदी की कीमत में भी रॉकेट जैसी रफ्तार देखने को मिल रही है. देश के वायदा बाजार में चांदी के दाम पहली बार 83 हजार रुपए के लेवल को पार कर गया है.

चांदी की कीमतों में अंदाजा से इसी बात से लगाया जा सकता है कि अप्रैल के महीने में करीब करीब 8 हजार रुपए यानी 11 फीसदी की तेजी देखने को मिल चुकी है.

जानकारों की मानें तो चीन से डिमांड के कारण चांदी के दाम में इजाफा देखने को मिल रहा है. दूसरी ओर बेस मेटल्स की कीमतों में तेजी आने के कारण भी चांदी के दाम आसमान पर पहुंच गए हैं.

चांदी पहली बार 83 हजार रुपए के पार-

देश के वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर चांदी के दाम पहली बार 83 हजार रुपए के पार चले गए. चांदी की कीमत में र 952 रुपए की तेजी देखने को मिल रही है और दाम 82,827 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गए हैं.  

अप्रैल में करीब 11 फीसदी का इजाफा-

अप्रैल के महीने में जहां सोने के दाम में 6 फीसदी का रिटर्न दिया है. वहीं दूसरी ओर चांदी की कीमत ने निवेशकों को 11 फीसदी का रिटर्न दिया है. आंकड़ों के अनुसार मार्च के आखिरी कारोबारी दिन चांदी की कीमत 75,048 रुपए थे. जिसमें अब तक 7,990 रुपए का इजाफा देखने को मिल चुका है.

मौजूदा साल में चांदी के दाम करीब 10 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है. पिछले साल के अंत में चांदी के दाम 75,500 रुपए पर थे. जिसमें 7,538 रुपए तक का इजाफा देखने को मिल चुका है. जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में चांदी की कीमत में देखने को मिल सकती है.

क्यों महंगी हो रही है चांदी?

चांदी में इजाफे का अहम कारण चीन की ओर से बढ़ी डिमांड है. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के कमोडिटी करेंसी हेड अनुज गुप्ता ने बताया कि चीन के मैन्युफैक्चरिंग के आंकड़ें बेहतर हुए हैं. इंडस्ट्रीयल डिमांड में इजाफे की वजह से चांदी की कीमत में इजाफा देखने को मिल रहा है. 

उन्होंने आगे कहा कि बेस मेटल्स जैसे कॉपर और जिंक की कीमत में भी तेजी देखने को मिल रही है. उसका असर भी चांदी की कीमत में देखा जा रहा है. उन्होंने कहा कि चांदी के दाम में आने वाले दिनों में भी तेजी देखने को मिल सकती है.

​गोल्ड भी रिकॉर्ड लेवल पर-

दूसरी ओर गोल्ड के दाम भी रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गए हैं. कारोबारी सत्र के दौरान सोने के दाम वायदा बाजार में 586 रुपए की तेजी देखने को मिल रही है और दाम 71,498 रुपए पर कारोबार कर रहा है. 

जबकि दिन में कारोबारी सत्र के दौरान गोल्ड के दाम 71,739 रुपए के साथ लाइफ टाइम हाई पर पहुंच गया. वैसे आज सोने के दाम सुबह तेजी के साथ 71,026 रुपए पर ओपन हुए थे. अप्रैल के महीने में गोल्ड के दाम में 6 फीसदी का इजाफा देखने को मिल चुका है.

दिल्ली में सोना रिकॉर्ड लेवल पर-

मजबूत वैश्विक रुख के बाद मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में सोने और चांदी की कीमतों में लगातार दूसरे दिन रिकॉर्ड बनने का सिलसिला जारी रहा और दोनों बहुमूल्य धातुओं की कीमतें नए लाइफ टाइम हाई पर पहुंच गई.

राष्ट्रीय राजधानी में सोने की कीमत 140 रुपये की तेजी के साथ 71,840 रुपए प्रति 10 ग्राम की नई ऊंचाई पर पहुंच गई. सोमवार को सोना 71,700 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था.

चांदी की कीमत भी 500 रुपए के उछाल के साथ 84,500 रुपए प्रति किलोग्राम की नयी रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई, जबकि सोमवार को पहली बार चांदी ने 84,000 रुपए के स्तर को लांघा था.

विदेशी बाजारों में सोना और चांदी-

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक सौमिल गांधी ने कहा कि विदेशी बाजारों में मजबूती के रुख से संकेत लेते हुए दिल्ली के बाजारों में 24 कैरेट सोने की हाजिर कीमत 71,840 रुपये प्रति 10 ग्राम की नयी रिकॉर्ड ऊंचाई पर कारोबार कर रही थीं, जो पिछले बंद भाव से 140 रुपये की बढ़त है.

विदेशी बाजार कॉमेक्स में हाजिर सोना 2,350 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था, जो पिछले बंद भाव से 14 डॉलर अधिक है. इसके अतिरिक्त, चांदी की कीमतें भी बढ़कर 28.04 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थीं. पिछले कारोबार में यह 27.80 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई थी.

क्या कहते हैं जानकार?

गांधी ने कहा कि व्यापारियों ने गति को आगे बढ़ाना जारी रखा है, जिससे सोने की कीमतें दैनिक आधार पर नई ऊंचाई पर पहुंच गई हैं. इसके अलावा, डॉलर सूचकांक कम कारोबार कर रहा है और अमेरिकी बॉन्ड प्रतिफल में गिरावट आई है, 

जिससे सुरक्षित-संपत्ति के लिए इसे अतिरिक्त समर्थन मिला है. गांधी ने कहा कि आगामी अमेरिकी उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के आंकड़ों से सोने की कीमतों पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ने का अनुमान है. 

कीमतें पहले से ही ऊंचे स्तर पर हैं. इन आंकड़ों के बाद मुनाफावसूली शुरू हो सकती है, जिससे इसमें गिरावट आ सकती है. वायदा कारोबार में, दिन के कारोबार में एमसीएक्स पर सोना 71,739 रुपये प्रति 10 ग्राम के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया.

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like