Agro Haryana

गुजरात और राजस्थान के इन CGST अधिकारियों के घर पर CBI की छापेमारी, मिला करोड़ों का खजाना

CGST: एक रिपोर्ट के मुताबिक आपको बता दें कि सीबीआई की छापेमारी में केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर-सीजीएसटी विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर के घर से बड़ा खजाना बरामद हुआ है. जिसमें 42 लाख रुपये की नकदी मिली है और बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा बरामद हुई है, तो आइए इस खबर में इसके बारे में जानते हैं विस्तार से... 
 | 
गुजरात और राजस्थान के इन CGST अधिकारियों के घर पर CBI की छापेमारी, मिला करोड़ों का खजाना

Agro Haryana, New Delhi: गुजरात के गांधी धाम में CBI की रेड में सेंट्रल गुड्स एंड सर्विसेस टैक्स- CGST विभाग में असिस्टेंट कमिश्नर के घर से एक बड़ा खजाना बरामद हुआ है. 42 लाख रुपए के कैश मिले हैं, बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा बरामद हुई है. गहने और ढेर सारी महंगी घड़ियां मिली हैं. इतना सब कुछ सीजीएसटी विभाग में एक असिस्टेंट कमिश्नरके घर से बरामद हुआ है.

इस सहायक आयुक्त का नाम महेश चौधरी है. इन्होंने अपनी पत्नी के नाम पर बेहिसाब संपत्ति इकट्ठी की है. इस छापेमारी में महेश चौधरी के घर से कुल 3 करोड़ की कीमत की संपत्ति जब्त की गई है.

सीबीआई के अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारियों के मुताबिक सहायक आयुक्त महेश चौधरी ने साल 2017 से 2021 के दौरान बड़े पैमाने पर कैश रकम, बैंक में जमा राशि, चल और अचल संपत्ति के कागजात अपने और अपने परिवार वालों के नाम जमा कर के रखी है.

कैश, संपत्ति, गहने, विदेशी मुद्रा…और मिला जानें क्या-क्या-

गुजरात और राजस्थान में CBI की छापेमारी जारी-

सीबीआई की तलाशी अभी खत्म नहीं हुई है. यह अभियान अभी जारी है. सीबीईआई के नेतृत्व में ये रेड गुजरात और राजस्थान के इलाके में मारी जा रही हैं. सीबीआई के मुताबिक चौधरी ने करीब 3 करोड़ 71 लाख 12 हजार 499 रुपए की संपत्ति गलत तरीके से जमा की है. यह संपत्ति कर अधिकारी के वास्तविक आमदनी से कई गुना ज्यादा है.

ऐसे में साफ बात यही है कि ये पैसे और संपत्तियां गलत तरीके से और करप्शन के जरिए जमा की है. चौधरी ने गलत तरीके से कितनी संपत्तियां जुटाईं, इसे जानने के लिए सीबीआई ने गुजरात और राजस्थान में कई ठिकानों पर एक साथ छापेमारियां कीं.

कर आयुक्त के घर में छापेमारी के बाद जो कैश, संपत्ति के कागजात, बैंक में जमा राशि की डिटेल, गहने, विदेशी मुद्रा का भंडार जब्त किया गया, उस पर लोगों में चर्चा शुरू है.

माना यह जा है कि इस अधिकारी के संपर्क से जुड़े लोगों के यहां तलाशी के बाद और भी बड़ी मात्रा में कैश और संपत्ति बरामद हो सकती है. फिलहाल तो अलग-अलग ठिकानों में छापेपमारियां शुरूु हैं. ये जब खत्म होंगी तब पूरा हिसाब सामने आ पाएगा.

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like