Agro Haryana

UP News: UP के इन जिलों में 87 गांवों की जमीनों का अधिग्रहण कर बसाया जाएगा नया शहर, मिलेगी ये सुविधाएं

UP News: रिपोर्ट के मुताबिक हम आपको बता दें कि यूपी के इन जिलों में नया शहर बसाया जाएगा। इसके लिए 87 गांवों की जमीनों का अधिग्रहण किया जाएगा। जिसके बाद से लोगों को ये खास सुविधाएं मिलने वाली है। तो आइए नीचे खबर में जानते है इसके बारे में विस्तार से...  

 | 
UP के इन जिलों में 87 गांवों की जमीनों का अधिग्रहण कर बसाया जाएगा नया शहर

Agro Haryana, New Delhi: वैसे तो नोएडा को देश के सबसे अच्छे शहरों में से एक माना जाता है, लेकिन नया नोएडा (New Noida) यूपी को मोदी और योगी (Modi and Yogi) की डबल इंजन की सरकार को एक शानदार उपहार साबित होगा. 

ये एक ऐसा शहर होगा जिसकी तुलना सिंगापुर, शिकागो जैसे दुनिया के बेहद आधुनिक शहरों से की जा सकेगी. इस शहर में आवासीय, औद्योगिक, हरियाली और आधुनिक तकनीक से लैस यातायात की सभी आधुनिक सुविधाएं उसी तरह होंगी जैसा दुनिया के चुनिंदा बड़े शहरों में होती है.

इसका एक पक्ष ये भी है कि नोएडा अथारिटी को जमीने देकर जिस तरह से नोएडा के किसानों को फायदा मिला उससे ज्यादा फायदा आस-पास के किसानों को भी मिलेगा, क्योंकि नया शहर बनाने के लिए एक हजार करोड़ रुपये की मंजूरी मिली है.

 ध्यान रखने वाली बात है कि आस-पास के किसानों को मलाल रहता है कि नोएडा कि अपेक्षाकृत कम उपजाऊ जमीन से वहां के किसानों को लाखों और करोड़ों रुपये मुआवजे मिले, जबकि उनकी अच्छी जमीन अथारिटी ने नहीं ली.

यूपी की योगी सरकार नए नोएडा बसाने की तैयारी तेज कर दी है. नए नोएडा बसाने के लिए किसानों से जमीन खरीदने की प्रक्रिया भी जल्द शूरू होने वाली है. 

नए नोएडा के लिए दादरी (Dadari) और बुलंदशहर (Bulandshahar) के गांवों की जमीन अगले चार-पांच महीने में खरीदी जानी है. 

यूपी सरकार ने फिलहाल नोएडा प्राधिकरण को किसानों से जमीन खरीदने के लिए 1 हजार करोड़ रुपये की मंजूरी दी है. ऐसे में अब दादरी और बुलंदशहर के 87 गांवों की जमीन के भाव बढ़ सकते हैं.

5 हजार हेक्टेयर जमीन

बता दें कि नए नोएडा बसाने की जिम्मेदारी नोएडा प्राधिकरण को मिली है. नोएडा प्राधिकरण तकरीबन 5 हजार हेक्टेयर जमीन सीधे किसानों से खरीदेगा. 

प्राधिकरण ने जमीन अधिग्रहण के लिए बीते रविवार को एक बोर्ड बैठक बुलाई थी, जिसमें नए शहर को बसाने के लिए एक हजार करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी गई.

आधुनिक सुविधाओं से लैस

नए नोएडा में सड़क सहित कुछ जरूरी सुविधाओं के लिए औद्योगिक क्षेत्र विकसित किए जाएंगे. दादरी और बुलंदशहर के 87 गावों की जमीन पर दादरी-नोएडा-गाजियाबाद विशेष निवेश क्षेत्र बसाया जाना है. 

तकरीबन 20 हजार हेक्टेयर जमीन पर नए नोएडा बसाया जाएगा, जिसमें 41 प्रतिशत औद्योगिक, 11.5 प्रतिशत आवासीय, 17 प्रतिशत हरियाली और रिएक्शनल, 15.5 प्रतिशत संस्थागत और 4.5 प्रतिशत व्यावसायिक हिस्सा विकसित होगा.

शिकागो और सिंगापुर जितना होगा आधुनिक

पिछले दिनों यूपी इंवेस्टर समिट में भी नोएडा को कुल निवेश में से तकरीबन 30 फीसदी रकम आई थी. ऐसे में नोएडा की इस बढ़ती साख के बाद अब यहां बसाए जा रहे 

न्यू नोएडा को भी दुनिया के आधुनिकतम शहरों की तर्ज पर विकसित किया जाएगा. यानी न्यू नोएडा में वो सारी सुविधाएं मिलेंगी, जो दुनिया के किसी विकसित शहर में मिल सकती हैं. न्यू नोएडा को शिकागो और सिंगापुर जैसे आधुनिक सुविधाओं वाले शहरों की तरह तैयार किया जाएगा.

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु महेश्वरी ने बताया कि मास्टर प्लान स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर, दिल्ली तैयार कर रहा है. अभी इस प्रोजेक्ट का फानल रिपोर्ट आनी बाकी है. 

फिलहाल जरूरी चीजों को विकसित करने के लिए प्राधिकरण कुछ जमीन सीधे किसानों से खरीदेगा. अभी जमीन अधिग्रहण किस हिस्से में शुरू होगा यह तय नहीं हुआ है.

 

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like