Agro Haryana

इस शहर में 1 अप्रैल से लगेगा Rain Tax? जानिए क्यों सरकार को उठाना पड़ा यह कदम

आज तक आपने इनकम टैक्स वॉटर टैक्स हाउस टैक्स टोल टैक्स चुकाया है. लेकिन अब आपको रेन टैक्स चुकाना पड़ेगा इसे एक बार कनाडा में लागू करने पर विचार किया जा रहा है चलिए जानते हैं. खबर को विस्तार से...
 | 
इस शहर में 1 अप्रैल से लगेगा Rain Tax

Agro Haryana, New Delhi : अभी तक आपने इनकम टैक्स, गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स, वॉटर टैक्स, हाउस टैक्स, टोल टैक्स का नाम सुने होंगे और पेमेंट भी किए होंगे, लेकिन रेन टैक्स का नाम कभी नहीं सुने होंगे।

अगर किसी शहर में रेन टैक्स लगा दिया जाए, तो सबसे पहले दिमाग में यही सवाल गूंजेगा कि रेन टैक्स क्यों? इस सवाल का जवाब मिलेगा, लेकिन सबसे पहले यह जानें यह रेन टैक्स दुनिया के किस शहर में लगा है।

कनाडा में अगले महीने से लोगों को रेन टैक्स देना पड़ सकता है। कनाडा का टोरंटो शहर यह एक नए प्रकार के टैक्स को लागू करने पर विचार कर रहा है।

इसका उद्देश्य तूफानी जल प्रबंधन (Stormwater Management) की समस्या का दूर करना है। टोरंटो सरकार की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक म्यूनिसिपल अथॉरिटी 'रेन टैक्स' लागू करने पर विचार कर रहा है और इसे अगले महीने यानी अप्रैल में ही इसे लागू करने की योजना है।

टोरंटो की आधिकारिक वेबसाइट में कहा गया है, "सरकार वॉटर यूजर्स और इच्छुक पार्टियों के सहयोग से स्टॉर्म वॉटर मैनेजमेंट से निपटने के लिए एक "स्टॉर्मवॉटर चार्ज और वाटर सर्विस चार्ज परामर्श" कार्यक्रम पर काम कर रही है।

अधिकारी इस रेन टैक्स के संभावित कार्यान्वयन पर लोगों और इच्छुक पार्टियों से रिएक्शंस इकट्ठा कर रहे हैं और जल उपयोगकर्ताओं को 30 अप्रैल से पहले सर्वेक्षण करने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।

तूफानी जल क्या है?

आधिकारिक सरकारी वेबसाइट में कहा गया है, "तूफान का पानी बारिश और पिघली हुई बर्फ है। जब जमीन द्वारा अवशोषित नहीं किया जाता है तो तूफानी पानी कठोर सतहों, सड़कों, तूफानी नालियों में और पाइपों के एक नेटवर्क के जरिए बह जाता है, जो इसे स्थानीय वाटरवे में ले जाता है।"

वेबसाइट ने नोट किया कि बड़ी मात्रा में स्टॉरम वाटर शहर की सीवर सिस्टम को प्रभावित कर सकता है, जिससे बेसमेंट में पानी भर सकता है और शहर की नदियों, झरनों और झीलों की सतही जल की गुणवत्ता प्रभावित हो सकती है।

तूफानी जल प्रभार क्या है?

टोरंटो के लोग पहले से ही वाटर यूटिलिटी बिलों का भुगतान करते हैं, जिसमें तूफानी जल प्रबंधन की लागत भी शामिल है। वेबसाइट में कहा गया है,

"स्टॉर्म वाटर चार्ज शहर के तूफान सीवर सिस्टम में तूफानी पानी के प्रवाह के संबंध में संपत्ति के प्रभाव पर आधारित होगा। यह हार्ड सर्फेस एरिया द्वारा दर्शाया जाता है। हार्ड सर्फेस में छतें, डामर ड्राइववे, पार्किंग क्षेत्र और कंक्रीट शामिल हैं।"

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like