Agro Haryana

UP के इन जिलों में बनाए जाएंगे नए रिंग रोड और हाईवे, इतने करोड़ की आएगी लागत

UP News: हाल ही में एक रिपोर्ट के मुताबिक हम आपको बता दें कि यूपी के इन जिलों में नए रिंग रोड़ और हाईवे बनाए जाएंगे। रेलवे प्रोजेक्ट इसकी मंजूरी दे चुके है। गडकरी ने 13 ओवरब्रिज के लिए भी 1000 रुपये की घोषणा की है। तो आइए नीचे खबर में जानते है इसके बारे में विस्तार से...  

 | 
UP के इन जिलों में बनाए जाएंगे नए रिंग रोड और हाईवे, इतने करोड़ की आएगी लागत 

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली:  उत्तर प्रदेश में सड़कों का बड़ा जाल बिछ जाएगा. केंद्र और योगी सरकार हाईवे-एक्सप्रेसवे (Highway Expressway) के अलावा रोड ओवरब्रिज से लेकर बाईपास निर्माण पर ताबड़तोड़ तरीके से काम में जुटी है.

राजमार्ग (National Highway) से जुड़े कई रोड प्रोजेक्ट तो पहले ही मंजूर हो चुके हैं या विचाराधीन हैं. योगी आदित्यनाथ सरकार हाईवे और ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे प्रोजेक्ट के लिए मुफ्त में जमीन मुहैया कराएगी. 

पिछले महीने इंडियन रोड कांग्रेस (Indian Road Congress) सम्मेलन में 8 से 10 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के प्रोजेक्ट का ऐलान हुआ था. इसमें शाहाबाद-हरदोई बाईपास प्रोजेक्ट (1200 करोड़ रुपये), शाहजहांपुर-शाहाबाद बाईपास (950 करोड़ रुपये), मुरादाबाद-काशीपुर एनएच (2000 करोड़ रुपये), गाजीपुर-बलिया सेक्शन (1700 करोड़ रुपये) शामिल हैं.  गडकरी ने 13 ओवरब्रिज (ROBs) के लिए भी 1000 रुपये की घोषणा की है.

प्रतापगढ़ सुल्तानपुर अयोध्या (Pratapgarh Sultanpur Ayodhya) राजमार्ग को फोर लेन  करने पर भी सहमति बन गई है. रायबरेली प्रयागराज सेक्शन (Rae Bareli Prayagraj section) को भी कुंभ 2025 के पहले चौड़ा करने का लक्ष्य भी तय किया गया है.

गोसाईंगंज-बनी-मोहन मार्ग का सुदृढ़ीकरण कार्य भी जल्द शुरू हो सकता है. सीतापुर -  लखीमपुर-गौरीफंटा और टुंडला -एटा- कासगंज और चंदौसी-मुरादाबाद-फर्रूखाबाद और नैमिषाराण्य- गोला गोकर्णनाथ-पूर्णागिरी-शाहजहांपुर रूट को भी आगे बढ़ाया जा रहा है. 

भारतमाला योजना (Bharatmala Yojna) के दूसरे चरण के तहत गोरखपुर - सिलीगुड़ी, वाराणसी-कोलकाता और गोरखपुर-बरेली कॉरिडोर पर भी काम आगे बढ़ना तय है. गाजियाबाद, मथुरा-वृंदावन, बुंदेलखंड औऱ सोनभद्र में रोपवे प्रोजेक्ट (Ropeway Projects) पर भी बात बनती दिख रही है. 

रिंग रोड और बाईपास डिविजनल मुख्यालय की सड़कों के विस्तार को लेकर भी सरकार प्रयासरत है. इसके अलावा, 25 बस स्टेशन भी एनएचएआई (NHAI) के जरिये कायाकल्प करने का प्रस्ताव है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने पिछले माह इंडियन रोड कांग्रेस में ऐसे कई परियोजनाओं का उल्लेख किया था.

 

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like