Agro Haryana

NCR के इन जिलों में बिछने वाली है नई मेट्रो रेल लाइन, कैबिनेट ने मंजूर कर दी फाइल

New Metro Line: हाल ही में सामने आई एक खबर के मुताबिक हम आपको बता दें कि सरकार ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट के बीच मेट्रो चलाने की योजना को मंजूरी दे दी है। जिसके बाद अब एनसीआर (NCR) के इन जिलों में नई मेट्रो रेल लाइन बिछाने की तैयारी चल रही है। तो आइये नीचे खबर में इस बारे में विस्तारपूर्वक जानते है...
 | 
NCR के इन जिलों में बिछने वाली है नई मेट्रो रेल लाइन, कैबिनेट ने मंजूर कर दी फाइल
Agro Haryana, डिजिटल डेस्क नई दिल्ली:  नोएडा-ग्रेटर नोएडा वेस्ट के बीच मेट्रो चलाने की योजना एक कदम और आगे बढ़ गई है। मेट्रो चलाने की मंजूरी की फाइल केंद्र सरकार के वित्त मंत्रालय से मंजूर होकर कैबिनेट तक पहुंच गई है।

 अधिकारियों का कहना है कि उम्मीद है कि कैबिनेट मीटिंग में जब भी प्रस्ताव रखा जाएगा तो मंजूरी मिल जाएगी। इस लाइन पर मेट्रो नोएडा के सेक्टर-51 से शुरू होकर ग्रेनो के नॉलेज पार्क-5 तक जाएगी। दिसंबर 2022 में इस रूट को पब्लिक इन्वेस्टमेंट बोर्ड (पीआईबी) ने मंजूरी दे दी थी।

 पीआईबी ने इस रूट की संस्तुति करते हुए फाइल को मंजूरी के लिए केंद्र सरकार के पास भेज दी थी। इसके बाद मेट्रो लाइन की फाइल अलग-अलग मंत्रालय से होते हुए वित्त मंत्रालय पहुंची और अब इसके लिए कैबिनेट नोट तैयार होकर मीटिंग के प्रस्ताव में शामिल हो गया है।

इस परियोजना पर खर्च होने वाले पैसे में 20 प्रतिशत हिस्सा केंद्र सरकार को देना है। इसी वजह से केंद्र की मंजूरी जरूरी है। यह रूट 14.958 किलोमीटर लंबा होगा, जिसमें नौ स्टेशन होंगे। 

पहले चरण में नोएडा के सेक्टर-51 से ग्रेनो वेस्ट के सेक्टर-2 तक मेट्रो चलेगी, जिसमें पांच स्टेशन होंगे। इनमें नोएडा क्षेत्र में सेक्टर-122 और सेक्टर-123, जबकि ग्रेनो वेस्ट के क्षेत्र में सेक्टर-4 ,ईकोटेक-12 और सेक्टर-2 में स्टेशन बनाए जाएंगे।

लाखों लोगों को फायदा-

नए रूट पर मेट्रो चलने का फायदा ग्रेनो वेस्ट में रहने वाले लाखों लोगों को होगा। यह पर्यावरण फ्रेंडली होगी। अभी लोगों को सेक्टर-51 से ग्रेनो वेस्ट की ओर जाने के लिए ऑटो या कैब का सहारा लेना पड़ता है।

दिवाली के आसपास शुरू हो सकता है काम-

अगर इस महीने कैबिनेट की मंजूरी मिल जाती है तो इसके बाद एनएमआरसी इसके निर्माण के लिए टेंडर जारी करेगा। पहली बार जारी किए गए टेंडर में कंपनी का चयन करने की प्रक्रिया में तीन से चार महीने का समय लगता है।

 इसके बाद जिस कंपनी का चयन होगा उसको काम शुरू करने के लिए कम से कम तीन महीने का समय दिया जाएगा। ऐसे में दिवाली के आसपास काम शुरू हो सकता है।

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like