Agro Haryana

Indian Railway: इस रेलवे स्टेशन पर हर रोज आती हैं 600 ट्रेनें, विदेशों से भी है रेल संपर्क

Indian Railway: आप लोगों ने भारत के कई बड़े बड़े रेलवे स्टेशनों के बारे में सुना होगा। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे रेलवे स्टेशन के बारे में बताने जा रहे है। जिसमे एक, दो या तीन नहीं बल्कि पूरे 23 प्‍लेटफॉर्म हैं और 26 रेल लाइन बिछी हुई हैं। इस रेलवे स्टेशन पर हर रोज 600 ट्रेनें आती है। आइये नीचे खबर में अस बारे में विस्तार से जानें...
 | 
इस रेलवे स्टेशन पर हर रोज आती हैं 600 ट्रेनें, विदेशों से भी है रेल संपर्क
Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली:  हम सभी आए दिन ट्रेन से सफर (Indian Railway latest updates) करते हैं। जितना मजा हमें ट्रेन से सफर करने में आता है, उससे कहीं ज्‍यादा दिलचस्‍पी रहती है भारत के स्‍टेशनों के बारे में जानने में। 

ये तो हम सभी जानते हैं भारत का सबसे लंबा रेलवे स्‍टेशन गोरखपुर है, लेकिन क्‍या आप यह जानते हैं कि भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्‍टेशन (India's largest railway station) कौन सा है।

 हावड़ा जंक्शन (Howrah Junction) भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है। यहां एक, दो या तीन नहीं बल्कि पूरे 23 प्‍लेटफॉर्म हैं और 26 रेल लाइन बिछी हुई हैं। सबसे बड़ा स्टेशन होने के साथ ही इसे भारत का सबसे व्‍यस्‍त रेलवे स्‍टेशन का भी दर्जा प्राप्‍त है। 

यह स्टेशन हुगली नदी के पश्चिमी तट पर स्थित है। यहां से हर रोज करीब 600 ट्रेनें गुजरती हैं, जिसमें हर दिन लगभग 10 लाख लोगों की आवाजाही है। आप पहली बार इस रेलवे स्‍टेशन पर जाएंगे, तो लगेगा जैसे पूरा शहर यहां समा गया है। तो चलिए जानते हैं, भारत के सबसे बड़े रेलवे स्टेशन के बारे में जरूरी बातें।  

​बांग्‍लादेश से है सीधा रेल संपर्क​

बता दें कि हावड़ा जंक्शन भारत के सबसे बड़े और पुराने रेलवे स्‍टेशनों में से एक है। इस स्‍टेशन का निर्माण 1854 में ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा किया गया था। अंग्रेजों के जमाने का यह रेलवे स्‍टेशन आज तके वैसे ही खड़ा है।

 इसका नाम हावड़ शहर के नाम पर रखा गया था। भारत का यह इकलौता रेलवे स्टेशन है, जिसका रेल संपर्क सीधे बांग्‍लादेश से है। मैत्री एक्‍सप्रेस जो सीधे कोलकाता से ढाका के बीच चलती है, दोनों शहरों को जोड़ती है।  

​क्रांतिकारियों का क्रेंद था हावड़ा जंक्‍शन- ​

चूंकि, यह रेलवे स्‍टेशन ब्रिटिश काल से जुड़ा है। इसलिए कभी यह जंक्शन क्रांतिकारियों का केंद्र हुआ करता था। स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान उनकी मीटिंग और सभी योजनाएं यहीं तैयार होती थीं। प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी योगेश चंद्र चटर्जी को काकोरी कांड से पहले हावड़ा स्टेशन पर ही गिरफ्तार किया गया था।

खूबसूरत है हावड़ा जंक्‍शन- ​

हावड़ा जंक्शन को देश के सबसे खूबसूरत स्टेशन का भी दर्जा प्राप्‍त है। बाहर से ही नहीं भीतर से भी यह स्‍टेशन विदेश के स्‍टेशनों से कम नहीं लगता। 

कोलकाता का यह रेलवे स्‍टेशन टर्मिनल 1 और टर्मिनल 2 नाम से भी जाना जाता है। बता दें कि इस जंक्‍शन पर एकसाथ एक ही समय पर कई ट्रेनें खड़ी की जा सकती है। यह क्षमता शायद ही भारत के किसी अन्‍य रेलवे स्‍टेशन की हो।

हावड़ा कैसे पहुंचे -​

हवाई मार्ग से: कोलकाता हवाई अड्डा हावड़ा का पास का हवाई अड्डा है। यह एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है जहां से आप कई घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें ले सकते हैं। इस हवाई अड्डे को काफी अच्छे से बनाया गया है। जो यात्रियों को सुविधाएं और सेवा प्रदान करता है।

रेल द्वारा: हावड़ा रेलवे स्टेशन की भारत के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी कनेक्टिविटी है। यहां से भी बड़े आराम से जा सकते हैं।

सड़क मार्ग से : राज्य परिवहन की बसों के साथ-साथ निजी बसें शहर को देश के कई अन्य शहरों से जोड़ती हैं। आप हावड़ा से कोलकाता (10 किमी), खड़गपुर (110 किमी), दुर्गापुर (150 किमी), जमशेदपुर (230 किमी) के लिए काफी आसानी से बसें ले सकते हैं।

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like