Agro Haryana

8th Pay Commission को लेकर सरकार ने कर्मचारियों को दिया ये जवाब

big update : सातवें वेतन आयोग के बाद देश के लाखों करोड़ों कर्मचारियों आठवें वेतन आयोग का इंतजार कर रहे है। हाल ही में मिली जानकारी के मुताबिक बता दें कि सरकार ने कर्मचारियों को 8th Pay Commission को लेकर ये जवाब दे दिया है। आइए नीचे खबर में जानते है सरकार का फैसला-  
 | 
8th Pay Commission को लेकर सरकार ने कर्मचारियों को दिया ये जवाब  

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली : इस बार लोक सभा के एलक्शन होने वाले है और ये इलेक्शन 19 अप्रैल से शुरू होंगे और इनका रिजल्ट जून तक आएगा। देश भर के सरकारी कर्मचारी पिछले 10 सालों से नए वेतन आयोग (8th Pay Commission) का इंतज़ार कर रहे हैं क्योंकि सरकार हर दस साल में एक पे कमीशन यानी वेतन आयोग (Pay Commission) का गठन करती है।

इसकी सिफारिशों के आधार पर ही केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन तय किया जाता है। अब तक सात वेतन आयोग बनाए जा चुके हैं। देश में पहला पे कमीशन जनवरी 1946 में बना था।

इसी तरह पिछला यानी सातवां पे कमीशन 28 फरवरी, 2014 को गठित हुआ था। इस कमीशन की सिफारिशों को साल 2016 में लागू किया गया था। माना जा रहा था कि चुनावी वर्ष मे उन्हें खुशखबरी मिल सकती है।

सरकार ने दिया ये जवाब

वित्त राज्य मंत्री पकंज चौधरी ने बुधवार को राज्यसभा में एक लिखित सवाल के जवाब में कहा कि सरकार के पास 8वें वेतन आयोग के गठन का कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है।

सरकार पहले भी कई बार कह चुकी है कि सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को दिए जाने वाले वेतन, भत्ते और पेंशन की समीक्षा के लिए एक और वेतन आयोग का गठन करने की आवश्यकता नहीं होनी चाहिए।

लेकिन पे मैट्रिक्स की समीक्षा और संशोधन के लिए नई व्यवस्था पर काम होना चाहिए। सरकार एक ऐसी व्यवस्था पर काम कर रही है जिससे कर्मचारियों की सैलरी उनकी परफॉर्मेंस के आधार पर बढ़े और ऐसे में जो कर्मचारी ये उम्मीद लगाए बैठे हैं की इलेक्शन से पहले सरकार 8th Pay Commission का गठन कर सकती है, अब उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है। 

डीए की घोषणा

कर्मचारियों और पेंशनर्स से जुड़े संगठनों की आठवें पे कमीशन के गठन की उम्मीद है। देश में इस समय करीब 48.62 लाख केंद्रीय कर्मचारी और 67.85 लाख पेंशनर हैं। सरकार जल्दी ही केंद्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते की घोषणा कर सकती है।

साल में दो बार महंगाई भत्ते में इजाफा करती है। इसी तरह पेंशनर्स को महंगाई राहत मिलती है। डीए में पहली बढ़ोतरी जनवरी से जून तक की अवधि के लिए होता है जबकि दूसरी जुलाई से दिसंबर तक की अवधि के लिए होगी। अभी यह मूल वेतन का 46 फीसदी है।

 
WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like