Agro Haryana

Chanakya ki Niti : पति मांगे ये चीज तो पत्नी देने में कभी भी न करें देरी

Chanakya Niti : आचार्य चाणक्य ने पति पत्नी के दांपत्य जीवन को लेकर कई बातें कही है। महान चाणक्य नीतिकार का कहना है कि जब पति पत्नी से ये चीज मांग तो पत्नी को देने में कभी भी देरी नहीं करनी चाहिए। फिर उनका रिश्ता में हमेशा प्यार बना रहता है। आइए नीचे खबर में जानते है क्या कहती है चाणक्य नीति- 
 | 
Chanakya ki Niti : पति मांगे ये चीज तो पत्नी देने में कभी भी न करें देरी   

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली: आचार्य चाणक्य पति-पत्नी और दांपत्य जीवन पर भी कई विचारों का वर्णन किया है। उन्होंने बताया है कि गृहस्थ जीवन में खुशियां तभी आएगी जब पति और पत्नी दोनों एक दूसरे के साथ खुश रहेंगे।

इसके लिए दोनों को संतुष्ट रहना बेहद जरूरी है। इसके लिए पत्नी को पति की कुछ चीजों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए। अगर पति अपनी पत्नी से इन कुछ चीजों का मांग करता है तो पत्नी को बेझिझक पूरी करनी चाहिए।

प्रेम की चाहत को करें पूरा

पति और पत्नी के बीच प्रेम का बरकरार होना बहुत जरूरी है। कई बार ध्यान न देने पर रिश्तों में दरार आ जाती है। इस स्थिति में पत्नी को अपने पति पर ध्यान देने की जरूरत है।

अगर आपस में प्यार नहीं होगा तो बार-बार लड़ाई झगडे की स्थिति बनी रहती है। इसलिए पत्नी को हमेशा अपने पति के प्रति प्रेम जाहिर करनी चाहिए। हर संभव प्रयास करना चाहिए कि रिश्ते में परेशानी न आए। इसलिए पति की चाहत प्रेम की हो तो उसे प्रेम से संतुष्ट करना पत्नी का कर्तव्य है।

पति की खुशीयों का रखें ख्याल

पति के सभी सुख दुख का ख्याल रखना बेहद जरूरी है। पत्नी का कर्तव्य है कि पति की सभी सभी चीजों का ध्यान रखें। इसलिए पति कभी भी उदास हो तो उन्हें मनाना चाहिए।

छोटी छोटी चीजों में खुशियों को ढूंढने की कोशिश करें। अगर रिश्ता बिखर रहा है तो आचार्य की नीति को अपनाएं और पति की उदासी का कारण ढूंढें और उसे दूर करें। पति को खुश रखने का हर संभव प्रयास करें।

पति पत्नी के बीच प्रेम का होना

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि एक खुशहाल वैवाहिक जीवन के लिए पति पत्नी के बीच प्रेम का होना बहुत आवश्यक होता है. यदि उनके बीच प्रेम न हो तो उनका परिवार सूखे पत्तों की तरह बिखर जाता है.

वहीं जिस पति पत्नी के बीच प्रेम होता है उनका गहर स्वर्ग की भांति हो जाता है. यदि पति उदास है और उसे प्रेम की चाह है तो इसका ये मतलब नहीं कि पत्नी मुंह फेर ले, बल्कि उसे पति से ये जानने की कोशिश करनी चाहिए कि वह किस चीज की चाह रखता है.

यदि आप अपने पति को खुश रखेंगी तो आपके घर दुख कभी दस्तक नहीं देगा. यह प्रेम पति पत्नी के बीच लड़ाई झगड़े भी खत्म कर देता है. प्रेम दोनों के रिश्ते को और भी मजबूत बनाता है.

इससे पति पत्नी का रिश्ता और भी गहरा हो जाता है, उनके घर धीरे धीरे खुशियों का अंबार लग जाता है. इसलिए अगली बार पति आप से प्रेम की चाह रखे तो उसे निराश न होने दें। उसे पूर्ण रूप से संतुष्ट करें.

एक दूसरे का सम्मान करें

सम्मान किसे नहीं पसंद होता है? जब पति पत्नी के रिश्ते की बात हो तो ये सम्मान एक दूसरे के लिए और ज्यादा होना चाहिए। आपका पार्टनर चाहे रुपये, पढ़ाई लिखाई ,गुण या फिर नौकरी में भले आपसे कम हो, उसके बाद भी आप उनकी अच्छी बातों के लिए उनका सम्मान करिए। आप एक दूसरे के लाइफ पार्टनर है यही काफी है। इसलिए एक आदर्श पति पत्नि के रिश्ते में एक दूसरे के लिए सम्मान होना चाहिए। 

पार्टनर से करें प्रेम

पति-पत्नी के रिश्ते में सबसे जरूरी होता है एक दूसरे को प्यार करना। आप अपने पार्टनर के बाहरी रंग- रूप को ध्यान न देते हुए उसकी आंतरिक सुंदरता से प्रेम करें। जब आप अपने पार्टनर को बिना किसी स्वार्थ के प्यार करेंगे तभी आपका रिश्ता एक आदर्श रिश्ता बनेगा।

पार्टनर की इच्छाओं को दें महत्व

पति-पत्नी को चाहिए कि वो एक दूसरे की इच्छाओं की हमेशा कद्र करें। अगर आप कोई भी काम करने जा रहें है तो अपने पार्टनर की रजामंदी जरूर लें। पति पत्नी के रिश्ते में सब्र का होना बहुत जरूरी है।

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like