Agro Haryana

Delhi news :दिल्ली के इन इलाकों में चलाया गया बुलडोजर, 30 दिन में गिराई 440 बिल्डिंग

Delhi news :बढ़ते प्रदूषण के कारण दिल्ली में कंस्ट्रक्शन के काम पर रोक लगा दी थी। लेकिन अब ये रोक हटा दी गई है हटते ही MCD ने इन इलाको में बुलडोजर चला दिया है और 30 दिन के अंदर-अंदर 440 बिल्डिंग गिरा दी है। आइए नाचे खबर में जानते है कहां कहां चलाया गया बुलडोजर-  
 | 
 Delhi news : दिल्ली के इन इलाकों में चलाया गया बुलडोजर, 30 दिन में गिराई 440 बिल्डिंग 

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली: जनवरी महीने में दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के चलते किसी भी तरह की कंस्ट्रक्शन के काम और तोड़ फोड़ के काम पर पाबंदी लगा दी थी जिसकी वजह से MCD का ये काम भी पेंडिंग में चला गया था।  

दिल्ली नगर निगम ने 440 विध्वंस, 85 सीलिंग और अवैध प्लॉटिंग के विरुद्ध 35 कार्रवाई की है. पिछले 1-2 महीने से दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के चलते ग्रैप 3 की पाबंदियां लग रही थीं, जिसके चलते दिल्ली में निर्माण एवं तोड़फोड़ की गतिविधियां बंद थीं. पाबंदियों के हटते ही दिल्ली नगर निगम का बुलडोज़र चल पड़ा है.

दरअसल, बिल्डरों में कानून का डर बैठाने के लिए एवं दिल्ली में निर्माण के लिए बने तीन कानून मास्टर प्लान 2021, एकीकृत बिल्डिंग उपनियम 2016 एवं डीएमसी एक्ट 1957 के अनुपालन के लिए यह कार्रवाई हो रही है. दिल्ली नगर निगम ने कृषि भूमि पर अवैध तरीके से की जा रही अवैध प्लॉटिंग पर भी कड़ी कार्रवाई की है.

दिल्ली नगर निगम के आंकड़े के मुताबिक अभी तक  2024 में 440 डेमोलीशन, 85 सीलिंग एवं अवैध प्लॉटिंग के खिलाफ 35 कार्रवाई करते हुए लगभग 70 एकड़ कृषि भूमि को अवैध निर्माण से मुक्त कराया गया है.

दो दिनों में 31 विध्वंस, 08 सीलिंग एवं अवैध प्लॉटिंग के विरुद्ध 04 कार्रवाई की हैं, जिसमें लगभग 07 एकड़ कृषि भूमि को अवैध प्लॉटिंग से मुक्त कराया गया है. यह कार्रवाई सैनिक फार्म, भाटि कला, डेरा विलेज मंडी, सैदुल्लाजाब, संत नगर ईस्ट ऑफ कैलाश, छतरपुर, बुराड़ी, जैतपुर और नरेला  इलाकों में की गई है.

दिल्ली नगर निगम के संज्ञान में आया है कि आसानी से बिजली पानी कनेक्शन उपलब्ध होने के चलते अवैध निर्माण एवं अवैध प्लॉटिंग को बढ़ावा मिलता है.

इसीलिए दिल्ली जल बोर्ड एवं बिजली वितरण कंपनियों के साथ मिलकर यह कार्रवाई की गई है. इसके साथ ही तुरंत प्रभाव से बिजली पानी कनेक्शन काटने के लिए उनसे संपर्क किया जा रहा है.

एमसीडी के अधिकारियों का कहना है कि अवैध निर्माण की रोकथाम के लिए निगम लगातार निगरानी कर रहा है. अवैध निर्माण के विरुद्ध सीलिंग एवं तोड़फोड़ की कार्रवाई के चलते निगम ने अनधिकृत निर्माण पर काफी हद तक रोक लगा दी है.

निगम आगे भी अवैध निर्माण,अवैध प्लॉटिंग के विरुद्ध इसी प्रकार की कार्रवाई जारी रखेगा.

WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like