Agro Haryana

Byju Raveendran Net Worth : 17000 करोड़ का था मालिक, अब कमाई गिरकर हुई जीरो, मुसीबतें नहीं छोड़ रही है पीछा

Byju Raveendran Latest News : फोर्ब्स की रिपोर्ट का हाल ही में एक बड़ा खुलासा हुआ है। बता दें कि एडटेक कंपनी बायजू के सीईओ बायजू रविंद्रन पहले 17000 करोड़ का मालिक था। लेकिन अब उसकी कमाई जीरो हो गई है। कर्मचारियों को भी सैलरी देना अब उसके लिए मुश्किल हो गया है। आइए नीचे कबर में जानते है क्या है इसका कारण-   

 | 
Byju Raveendran Net Worth : 17000 करोड़ का था मालिक, अब कमाई गिरकर हुई जीरो 

Agro Haryana, Digital Desk- नई दिल्ली : हाल ही में फोर्ब्स की रिपोर्ट से एक हैरानीजनक खुलासा हुआ है। जानकारी के लिए बता दें कि एडटेक कंपनी बायजू के सीईओ बायजू रविंद्रन (Byju Raveendran net worth) भारी संकट में घिर गए हैं. पिछले एक साल में उन्‍हें कई झटके लगे हैं. 1 साल पहले उनकी नेट वर्थ 17545 करोड़ रुपये (2.1 अरब डॉलर) थी, वह अब गिरकर जीरो हो गई है. 

बता दें ये खुलासा फोर्ब्स बिलेनियर इंडेक्स 2024 (Forbes Billionaire List 2024) में हुआ है. फोर्ब्‍स की इस लिस्‍ट में से पिछले साल की लिस्ट के मुकाबले सिर्फ 4 लोग ही इससे बाहर हुए हैं. इनमें से एक बायजू रविंद्रन हैं.

एक साल से जारी संकट के बाद ब्लैकरॉक ने भी कंपनी बायजू की वैल्युएशन 22 अरब डॉलर से घटकर 1 अरब डॉलर कर दी. इसी कारण बायजू रविंद्रन को तगड़ा झटका (Byju Ravindran) लगा है और उनकी नेट वर्थ शून्य कर दी गई है.

कंपनी की इतनी ज्यादा बुरी हालत (byjus crisis) हो चुकी हैं कि स्टार्टअप अपने कर्मचारियों को वक्त पर सैलरी भी नहीं दे पा रहा है. Byju’s की पेरेंट कंपनी थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड ने लगातार दूसरे महीने कर्मचारियों की सैलरी रोकी है.

कंपनी ने कहा है कि राइट्स इश्यू के माध्यम से जुटाई गई राशि को जारी करने के लिए फिलहाल NCLT से हरी झंडी का इंतजार है, जिससे वेतन जारी करने में दिक्कत आ रही है.

इस वर्ष में हुई थी बायजू की स्‍थापना

एडटेक कंपनी बायजू की स्थापना (Establishment of Byju's) रविंद्रन ने वर्ष 2011 में की थी. शुरूआत में उनका यह स्टार्टअप बहुत तेजी से आगे बढ़ा और 2022 में 22 अरब डॉलर की बड़ी वैल्युएशन हासिल कर ली. कंपनी ने अमेरिका में भी कदम रखे. मगर, इसके बाद लगातार कंपनी को झटके पर झटके लगते रहे. 

बायजू रविंद्रन और कंपनी के कुछ निवेशकों में छिड़े विवाद ने कंपनी की लंका लगा दी. अब हालत यह है कि बायजू जनवरी, 2024 से ही समय पर अपने कर्मचारियों को समय से सैलरी नहीं दे पा रहा है.

हजारों की तादाद में कर्मचारियों की हुई छंटनी

खराब हालत के चलते Byju’s में पिछले 12 महीनों में हजारों कर्मचारियों की छंटनी हो चुकी है. स्टार्टअप एक ओर वेंचर कैपिटल में कमी और दूसरी ओर ऑनलाइन एजुकेशन सर्विसेज की धीमी मांग के दोहरे झटके से जूझ रहा है. बायजू का शुद्ध घाटा (byju's net loss) एक अरब डॉलर बताया गया है. 

अब ये कंपनी भारत की सबसे ज्यादा घाटे वाली कंपनियों की लिस्ट में भी शामिल हो चुकी है. कंपनी के खराब प्रदर्शन का ठीकरा बायजू रविंद्रन के सिर पर ही फोड़ा गया है.

पिछले महीने बड़े शेयरहोल्डर्स ने बायजू रविंद्रन को सीईओ (Byju CEO Ravindran) के पद से हटाने के लिए वोट किया था. हालांकि, यह मामला कोर्ट में फंसा हुआ है.
 

 
WhatsApp Group Join Now

Around The Web

Latest News

Trending News

You May Also Like